यीशू का मोहब्बतनामा

मैं तुम्हारे लिए मज़हब नही लाया, मैं खुदा की मोहब्बत, गुनाहों की माफी, और नजात की खुशख़बरी लाया हूँ।

खुदावंद का रूह मुझ पर है इसलिए कि उसने मुझे ग़रीबों को खुशख़बरी देने के लिए मसह किया है।
उसने मुझे भेजा है कि कैदियों को रिहाई और अंधों को बीनाई पाने की खबर सुनाऊं और कुचले हुओ को आज़ाद करूँ।

  • मुबारक हैं वो जो दिल के ग़रीब हैं, क्यूंके आसमान की बादशाही उन्ही की है।
  • मुबारक हैं वो जो गमगीन हैं, क्यूंके वो तसल्ली पाएँगे।
  • मुबारक हैं वो जो पाक दिल के हैं, क्यूंके वो खुदा को देखेंगे।
  • मुबारक हैं वो जो रास्तबाज़ी के सबब से सताए गये हैं, क्यूंके आसमान की बादशाही उन्हीं की है।
  • जब लोग मेरे सबब से तुमको लानतान करेंगे और सताएँगे , और हर तरह की बुरी बातें तुम्हारी निसबत कहेंगे तो तुम मुबारक होगे


तुम अपने दुश्मनों से मोहब्बत रखो

हाँ मज़हबी रहनुमाओं ने तुम से कहा था के तुम खून नहीं करना पर मैं तुमसे कहता हूँ के अपने दिल में गुस्सा भी ना रखना।

तुमसे कहा गया था की आँख के बदले आँख और दाँत के बदले दाँत, लेकिन में कहता हूं कि बुराई का मुक़ाबिला ना करना, बलके जो कोई तुम्हारे दाहिने गाल पर तामांचा मारे, तो दूसरा भी फेर देना।

पहले तुम ने सुना था के अपने पड़ोसी से मोहब्बत रखना और अपने दुश्मन से अदावत लेकिन में तुमसे ये कहता हूँ के अपने दुश्मनों से मोहब्बत रखो और अपने सताने वालों के लिए दुआ करो।

जो तुम से अदावत रखे उनका भला करो, जो तुम पर लानत करें उनके लिए बरकत चाहो, जो तुम्हारी तहकीर करें उनके लिए दुआ करो।

अगर तुम लोगों के कसूर माफ़ करोगे तो तुम्हारा आसमानी खुदा भी तुमको माफ़ करेगा।


फ़िक्र ना करना

में तुमसे कहता हूँ की अपनी जान की फ़िक्र ना करना के हम क्या खाएँगे या क्या पीएँगे और ना अपने बदन की के क्या पहनेंगे।

क्या जान खुराक से और बदन पोशाक से बढ़कर नहीं। ए मेहनत उठाने वालो और बोझ से दबे हुए लोगो, सब मेरे पास आओ, मैं तुमको आराम दूँगा।

तुम में से ऐसा कौन है जो फ़िक्र करके अपनी उम्र में एक घड़ी भी बढ़ा सके? तुम्हारा दिल ना घबराए तुम खुदा पर ईमान रखते हो, मुझ पर भी ईमान रखो।


राह, हक़ ओर ज़िंदगी में ही हूँ

जो कुछ तुम मेरे नाम से चाहोगे मैं वही करूँगा. मैं तुम्हें यतीम ना छोड़ूँगा।

मैं तुम्हारे पास आउन्गा, अपना इत्मीनान तुम्हें देता हूँ।

मैं तुम्हें इत्मीनान दिए जाता हूँ, अपना इत्मीनान तुम्हें देता हूँ, जिस तरह दुनिया देती है। मैं तुम्हें उस तरह नहीं देता, तुम्हारा दिल ना घबराए ना डरे। जैसे मैनें तुम से मोहब्बत रखी, वैसे ही तुम भी एक दूसरे से रखो।

अगर दुनिया तुम से अदावत रखती है, तो तुम जानते हो के उसने तुमसे पहले मुझसे भी अदावत रखी है। अगर तुम दुनिया के होते तो दुनिया अपनों को अज़ीज़ रखती , लेकिन चुँके तुम दुनियाँ के नहीं बलके मैनें तुमको दुनियाँ में से चुन लिया है, इस वास्ते दुनिया तुम से अदावत रखती है।

अगर उन्हों ने मुझे सताया तो तुम्हें भी सताएँगे। ये सब कुछ वो मेरे नाम के सबब से तुम्हारे साथ करेंगे। मैं तुमसे कहता हूँ के उनसे ना डरो जो बदन को कत्ल करते हैं और उसके बाद और कुछ नहीं कर सकते। डरो मत क्यूंके तुम्हारे सिर के बाल भी गिने हुए हैं।


तुम ठोकर ना खाओ

लोग तुमको इबादतखानों से खारिज़ कर देंगे बलके वो वक्त आता है के जो कोई तुमको कत्ल करेगा वो गुमान करेगा के मैं खुदा की खिदमत करता हूँ।

जब वो तुम को इबादतखानों में और हाकिमों और इख्तियार वालों के पास ले जाएँ तो फ़िक्र ना करना के हम किस तरह या क्या जवाब दें या क्या कहें, क्यूंके रूह उल क़ुद्स उसी घड़ी तुम्हें सिखा देगा के क्या कहना चाहिए। मैनें तुम से ये बातें इसलिए कहीं के तुम मुझमें इत्मीनान पाओ। दुनिया में मुसीबत उठाते हो, लेकिन हिम्मत रखो, मैने दुनिया पर फ़तह हासिल की है।


मेरी दुआ

में अर्ज़ करता हूँ खुदावंद के मैं दुनियाँ में आगे ना रहूँगा, पर मुझ पर ईमान करने वाले ये दुनियाँमें हैं। ए क़ुदूस खुदावंद अपने ही नाम से उन्हें जिन्हें तूने मुझे बक्शा है हिफ़ाज़त से रख। मैनें तेरा कलाम उन्हें दिया और दुनियाँ ने उनसे दुश्मनी की इसलिए के जैसा मैं दुनियाँ का नहीं हूँ वे भी दुनियाँ के नहीं हैं। में ये अर्ज़ करता हूँ के उन्हें उन्हें बुराई से बचाए रख। अमीन

हवाला – लूका ४, मत्ती ५, ६, ७, लूका ६, मत्ती ११, लूका १२, यूहन्ना १४, यूहन्ना १७

शिष्य थॉमसन